उत्तर प्रदेश के परिषदीय विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों/शिक्षिकाओं हेतु अंतर्जनपदीय स्थानांतरण में ऑनलाइन आवेदन करते समय उत्पन्न होने वाले कुछ प्रश्नों/समस्याओं का हल … <

प्रश्न :- रजिस्ट्रेशन फॉर्म के बिंदु 4 गृह
जनपद में क्या भरा जाएगा?.

उत्तर :- प्रथम नियुक्ति तिथि वो तिथि होगी जी
विभाग में सहायक अध्यापक पद हेतु प्रथम
नियुक्ति पत्र पर अंकित होगी।
(उदाहरण के लिए सहायक अध्यापक पद हेतु
नियुक्ति पत्र पर तिथि 10/02/2009 अंकित है
तो वही प्रथम नियुक्ति तिथि होगी।)

प्रश्न :- रजिस्ट्रेशन फॉर्म के बिंदु 13
वर्तमान जनपद में कार्यभार ग्रहण करने की
तिथि में क्या भरा जाएगा?

उत्तर :- प्रथम नियुक्ति पत्र के आधार पर
वर्तमान जनपद में कार्यभार ग्रहण करने की
तिथि इस बिंदु पर अंकित की जाएगी।
(उदाहरण :- मैंने 10/02/2009 के नियुक्ति
पत्र के आधार पर 11/02/2009 को जॉइन
किया तो वर्तमान जिले में कार्यभार ग्रहण करने की तिथि 11/02/2009 होगी
■■■■■■■■■■■■

प्रश्न :- रजिस्ट्रेशन फॉर्म के बिंदु 14
वर्तमान पदनाम में कार्यभार ग्रहण करने की
तिथि में क्या भरा जाएगा?

उत्तर :- यदि कोई पदोन्नत्ति नहीं हुई है तो यहां
भी बिंदु 13 में भरी गयी तिथि ही अंकित की
जाएगी।
लेकिन यदि पदोन्नत्ति हुई है तो पदोन्नत्ति के
फलस्वरूरप कार्यभार ग्रहण तिथि अंकित की
जाएगी।
■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
प्रश्न :- ट्रांसफर आवेदन पत्र के बिंदु 21
कार्यरत विषय मे क्या भरा जाएगा?

उत्तर :- बिंदु 21 पर तीन बिन्दु मिलेंगे:-
आर्ट्स / मैथ्स/ साइंस

  1. यदि साधारण/ विशिष्ट बीटीसी / प्रशिक्षु
    भर्ती में कला वर्ग से चयनित हैं या ती विषय में
    ARTS वाला बिन्दु चुनें।
  2. यदि 29334 जूनियर भर्ती में गणित विषय
    से चयनित हैं तो MATHS वाला ऑप्शन चुनें।
  3. यदि साधारण / विशिष्ट बीटीसी / प्रशिक्षु
    भर्ती /29334 जूनियर भर्ती में विज्ञान वर्ग
    से चयनित हैं तो विषय में साइंस वाला बिन्दु चुनें।
    ■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
    प्रश्न :- अविवाहित शिक्षक/शिक्षिका द्वारा
    ट्रांसफर आवेदन पत्र के बिंदु 24 स्थानांतरण
    चाहने के कारण में क्या फंस जाएगा?

उत्तर :- चूंकि बिंदु 24 में वर्णित कोई भी कारण
अविवाहित शिक्षक/शिक्षिका की शर्त
को संतुष्ट नहीं करता अतः ऐसी स्थिति में
अविवाहित शिक्षक/शिक्षिका बिंदु 24 में
किसी भी विकल्प को न चुनें। चूंकि बिंदु 24 में
विकल्प का चुनाव बाध्यकारी नहीं है अतः उसे
बिना भरे भी फॉर्म स्वीकृत होने में कोई समस्या
नहीं आएगी।
■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
प्रश्न :- यदि कोई शिक्षक/शिक्षिका बिंदु
24 के अंतर्गत स्थानांतरण चाहने के किसी भी
कारण को संतुष्ट न करते हो तो उस बिंदु पर
क्या भरा जाएगा?

उत्तर :- बिंदु 24 में वर्णित किसी भी शर्त
को संतुष्ट नहीं करने की स्थिति में बिंदु 24 में
किसी भी विकल्प को न चुनें। चूंकि बिंदु 24 में
विकल्प का चुनाव बाध्यकारी नहीं है अतः उसे
बिना भरे भी फॉर्म स्वीकृत होने में कोई समस्या
नही आएगी।
■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
प्रश्न :- बिंदु 26 पर क्या केवल एक जनपद का
चयन किया जा सकता है।

उत्तर :- नवीन दिशानिर्देश के बिंदु 1 के
अनुसार मात्र एक जनपद का विकल्प देकर
भी आवेदन किया जा सकता है। अतः स्वेच्छा
से 1/2/3/4/5 जनपद का विकल्प वरीयता
अनुसार चुन सकते हैं।
विकल्प चुनने में सम्बन्धित जनपदों में पद
उपलब्धता के आधार को भी ध्यान में रखते हुए
विकल्प चुना जाना चाहिए।
■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
प्रश्न :- बिंदु 27 पहचान पत्र का प्रकार में
क्या भरें?

उत्तर :- पहचान पत्र के तीन विकल्प उपलब्ध
हैं- वोटर आईडी / ड्राइविंग लाइसेंस /कॉलेज
आईडी

कॉलेज आईडी के सम्बन्ध में स्पष्टता न होने के
चलते वोटर आईडी या ड्राइविंग लाइसेंस का
विकल्प चुना जाना बेहतर होगा।
■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
प्रश्न :- अंतर्जनपदीय स्थानांतरण आवेदन
में प्र0अ0 प्राथमिक विद्यालय और स0अ0
उच्च प्राथमिक विद्यालय के पद अलग अलग
प्रदर्शित किए जाने से ट्रांसफर हेतु प्र0अ0 के
पद बेहद कम हो गए हैं। ऐसे में प्र0अ0 किस
प्रकार आवेदन करें?

उत्तर :- चूंकि 29334 गणित-विज्ञान भर्ती में
नियुक्त स0अ0 उच्च प्राथमिक विद्यालय को
किसी भी स्थिति में प्र0अ0 प्राथमिक विद्यालय
पर पदस्थापित नहीं किया जा सकता इसलिए
यह सम्भव है कि इस प्रकार अलग अलग रिक्त
पद विज्ञापित किये गए हैं।
लेकिन यह सत्य है कि इस प्रक्रिया से प्र0अ0
प्राथमिक विद्यालय के हित प्रभावित हो रहे
हैं अतः इस स्थिति में प्रभावित शिक्षकों द्वारा
उचित माध्यम से शासन को इस विसंगति से
परिचित कराया जाना चाहिए।
■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
प्रश्न :- म्यूच्यूअल ट्रांसफर के लिए कोई
ऑप्शन फॉर्म में प्रदर्शित नहीं हो रहा है!
म्यूच्यूअल के आवेदक क्या करें?

उत्तर :- शासनादेश दिनाँक 02/12/19 के
बिंदु 14 एवं 21 के अनुसार म्यूच्यूअल ट्रांसफर
की भी व्यवस्था रहने की बात स्पष्ट लिखी हुई
थी। लेकिन फॉर्म में इस सम्बन्ध में कोई बिंदु न
होने के कारण स्थिति अस्पष्ट हो गयी है। इस
मामले में वेबसाइट पर आवश्यक अपडेट का
कुछ दिन इंतज़ार करना ठीक रहेगा। यदि कुछ
दिन बाद भी म्यूच्यूअल हेतु कोई नवीन अपडेट
प्राप्त नहीं होती है तो वर्तमान फॉर्म को ही भर
देना चाहिए, सम्भवतः इन्ही आवेदन कर्ताओं से
बाद में जनपद स्तर पर काउंसिलिंग के समय
म्यूच्यूअल हेतु शपथपत्र प्राप्त कर लिए जाएं।
■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
प्रश्न :- फॉर्म भरने के बाद भी सेव नहीं हो
रहा है? क्या कारण हो सकता है?

उत्तर :- फॉर्म सेव न होने का एक संभावित
कारण स्टार मार्क (*) वाले सभी बिंदुओं की
सूचना न भरा जाना हो सकता है। यदि वे सभी
सही भरे हैं तो ध्यान देने योग्य बात है कि बिंदु
28 पर फ़ाइल PDF फॉर्मेट (50KB से कम) में
अपलोड की जानी है जबकि बिंदु 29 व 30 पर
फ़ाइल JPG/JPEG फॉर्मेट (20KB से कम)
में अपलोड की जानी है।
सभी उपलोड सही फॉर्मेट एवं साइज़ में होने पर
फॉर्म सेव हो जाएगा।
■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
प्रश्न :- फॉर्म सेव करने के उपरांत क्या
कार्यवाही करनी होगी?

उत्तर :- फॉर्म सेव करने के उपरांत इसे प्रीव्यू में
जाकर अथवा प्रिंट निकाल कर चेक कर लें।
यदि कोई कमी लगे तो उसे वेबपेज पर सबसे
नीचे दिए गए Modify Draft पर जाकर सही
कर लें। यदि सभी प्रविष्टि सही हों तो फिर
फाइनल सबमिट करने के लिए ओटीपी प्राप्त
करें (वेबपेज में सबसे नीचे Generate OTP
for Final Submit लिंक पर जाकर) और
फॉर्म फाइनल सबमिट कर दें। फाइनल सबमिट
करने के पश्चात उसका प्रिंट आउट ले लें एवं
जनपद में बीएसए कार्यालय में दो कॉपी में
आवश्यक डाक्यूमेंट्स के साथ 20/01/2020
तक जमा कराकर पावती (रिसीविंग) प्राप्त करें।
■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
प्रश्न :- अंतर्जनपदीय स्थानांतरण आवेदन
में प्र0अ0 प्राथमिक विद्यालय और स0अ0
उच्च प्राथमिक विद्यालय के पद अलग अलग
प्रदर्शित किए जाने से ट्रांसफर हेतु प्र0अ0 के
पद बेहद कम हो गए हैं। ऐसे में प्र0अ0 किस
प्रकार आवेदन करें?

उत्तर :- चूंकि 29334 गणित-विज्ञान भर्ती में
नियुक्त स0अ0 उच्च प्राथमिक विद्यालय को
किसी भी स्थिति में प्र0अ0 प्राथमिक विद्यालय
पर पदस्थापित नहीं किया जा सकता इसलिए
यह सम्भव है कि इस प्रकार अलग अलग रिक्त
पद विज्ञापित किये गए हैं।
लेकिन यह सत्य है कि इस प्रक्रिया से प्र0अ0
प्राथमिक विद्यालय के हित प्रभावित हो रहे
हैं अतः इस स्थिति में प्रभावित शिक्षकों द्वारा
उचित माध्यम से शासन को इस विसंगति से
परिचित कराया जाना चाहिए।
■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■■
धन्यवाद🙏🙏

thanks

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Love it
< html > < सिर > <मेटा नाम = "Google-साइट-सत्यापन" सामग्री = "<मेटा नाम =" Google-साइट-सत्यापन "सामग्री =" rDBP0_YC_ffTaqRprI0q4okWGNbHQBeKCDlOlgVkoKo ">">> < शीर्षक > मेरा शीर्षक < / शीर्षक > < / head > < शरीर > पृष्ठ सामग्री < / शरीर > < / html >