गोंडा: खंड शिक्षा अधिकारी ममता सिंह धन उगाही के आरोप में निलंबित

Spread the love

अंर्तजनपदीय तबादले के शिक्षकों से कार्यमुक्ति के लिए बीआरसी पर धन उगाही के मामले में खंड शिक्षा अधिकारी वजीरगंज ममता सिंह को निलंबित किया गया है।

सहायक शिक्षा निदेशक बेसिक शिक्षा विनय मोहन वन ने बीईओ के साथ ही लेखाकार व एक प्रधानाध्यापक के खिलाफ एफआईआर के आदेश दिए हैं।

Up teachers transfer

Whatsapp से घटना का लिया संज्ञान

वजीरगंज में शिक्षकों से धन उगाही किए जाने की एक सूची वाटसएप ग्रुप पर वायरल हुई थी। अधिकारियों ने मामले संज्ञान लिया।

शासन ने पूरी रिपोर्ट तलब की, बीएसए ने मामले की जानकारी किया। उन्होने बताया कि धन उगाही की पुष्टि होने पर रिपोर्ट भेजी गई।

उधर रिपोर्ट मिलने के चंद घंटों में ही अपर शिक्षा निदेशक सरिता तिवारी ने खंड शिक्षा अधिकारी के निलंबन के आदेश जारी कर दिए।

प्रधानाध्यापक और संविदा कर्मी पर कार्यवाही

  • अंर्तजनपदीय तबादले के 1085 शिक्षकों की कार्यमुक्ति में धन उगाही में खंड शिक्षा अधिकारी के साथ ही एक प्रधानाध्यापक व संविदा कर्मी भी कार्रवाई के दायरे में आ गए हैं।
  • सहायक शिक्षा निदेशक विनय मोहन वन ने बताया कि वजीरगंज में बीईओ की कार्यप्रणाली से विभाग की छवि धूमिल हुई।
  • शिक्षकों से उगाही के मामले में बीआरसी कैंपस के पूर्व माध्यमिक विद्यालय के प्रधानाध्यापक शिवशंकर सिंह और संविदा कर्मी लेखाकार विपिन कुमार की भूमिका है।
  • जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को निर्देश दिया गया है कि तीनों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराएं। इसके अलावा प्रधानाध्यापक व लेखाकार के खिलाफ भी विभागीय कार्रवाई होगी।
  • उन्होंने बताया कि खंड शिक्षा अधिकारी ममता सिंह को निलंबित करके डायट दर्जीकुआं से संबद्व किया गया है। पूरे मामले की जांच संयुक्त शिक्षा निदेशक अयोध्या को सौंपी गई है।

Follow us Google news

Telegram


Spread the love

thanks

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.