National Education Policy: IASE webinar official

Spread the love

राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 (NEP-2020) IASE, प्रयागराज द्वारा Amity विश्वविद्यालय उत्तर प्रदेश, लखनऊ के सहयोग से एक 20 एपिसोड वेबिनार श्रृंखला का आयोजन किया जा रहा है।
वेबिनार का आयोजन प्रत्येक बुधवार एवं शनिवार को किया जाना है।
राष्ट्रीय शिक्षा नीति को समझने के लिये और क्रियान्वयन हेतु अपने सुझाव वेबिनार से जुड़ कर साझा करें।
दो तरह के google form हैं।

1- For Parents

https://docs.google.com/forms/d/1Db4kX0vtZkKOUWhedNFu5_tAHu9QMJu3gTyoH254hT8/edit

2-For Educators

https://docs.google.com/forms/d/1gb0LC6yZeZZeR7ooUTJXQRJgK23SMLgE4q_CplZF0xs/edit

फॉर्म को यथाशीघ्र भरकर रजिस्ट्रेशन कराएं एवं राष्ट्रीय शिक्षा नीति वेबिनार में सम्मिलित होने का सुअवसर प्राप्त करें।

महत्वपूर्ण निर्देश:-

कार्यक्रम में भाग लेने के लिए, पंजीकरण अनिवार्य है।
यहां दिए गए Google लिंक ()का उपयोग करके पंजीकरण करना होगा।

Iase की additional director
Lalita Pradeep ( Principal/Additional Director, IASE, Prayagraj, ने बताया कि
कार्यक्रम का आयोजन गूगल मीट के माध्यम से ऑनलाइन किया जाएगा। पंजीकृत प्रतिभागियों को उनके पंजीकृत ईमेल आईडी और सक्रिय व्हाट्सएप नंबर पर Google मीटिंग लिंक प्राप्त होगा।

कार्यक्रम प्रत्येक सप्ताह बुधवार और शनिवार को निर्धारित किया जाएगा।

  • बुधवार को कार्यक्रम का समय 05:30 PM -7: 00 बजे
  • शनिवार का समय सुबह 11:00 बजे- 12:30 बजे है।

https://twitter.com/IasePrayagraj/status/1302486149471121408?s=19


प्रमाण पत्र पंजीकृत प्रतिभागियों को दिया जाएगा जो कार्यक्रम के सभी सत्रों में भाग लेते हैं और कार्यक्रम के प्रत्येक सत्र के बाद आयोजित सभी परीक्षा में भाग लेते हैं।
कार्यक्रम के लिए कोई पंजीकरण शुल्क नहीं है।

Workshop के 5वें Episode का प्रसारण 9 सितंबर

को होगा

  FACEBOOK: https://t.co/Ly6GxXZG7b YTUBE: https://t.co/rxSXqWoODZ

The Capacity Building Program on National Education Policy 2020 is organised by @IasePrayagraj and @AmityLucknow

Webinor का उद्घाटन माननीय बेसिक शिक्षा मंत्री

डा़ सतीश चन्द्र द्विवेदी जी ने किया था।


Spread the love

Comments

  1. Pingback: NISHTHA MODULE 15 : पूर्व प्राथमिक शिक्षा Answer -

thanks

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.