Nishtha(निष्ठा)माड्यूल प्रशिक्षण 2 लिंक,PDF,प्रश्नोत्तरी हल

Share for friends

NISHTHA कोर्स-2 UP_स्वस्थ विद्यालयी परिवेश निर्मित करने के लिए व्यक्‍त‍िगत-सामाजिक योग्यता विकसित करना (उत्तर प्रदेश)

on DIKSHA at https://diksha.gov.in/explore-course/course/do_3131313859664363521329?referrer=utm_source%3Ddiksha

आप इस लिंक के माध्यम से DIRECT प्रशिक्षण माड्यूल पर पहुंच जायेंगे ।

इस मॉड्यूल(Nishtha) को पढ़ने के बाद, आप निम्नलिखित को करने में सक्षम होंगे

* व्यक्तिगत-सामाजिक गुणों के बारे में समझ विकसित करने में;

* स्वयं के व्यक्तिगत-सामाजिक गुणों पर विचार करने के साथ शिक्षार्थियों में उन्हीं गुणों का विकास करने में;

* कक्षा में मार्गदर्शन प्रदान करने के लिए आवश्यक गुणों और कौशलों का विकास करने में;

विद्यालयों/कक्षाओं में एक ऐसा परिवेश निर्मित करने में, जहाँ सभी विद्यार्थी स्वीकार्य महसूस करें, उनमें आत्मविश्वास जगे,

वे यह महसूस करें कि उनका ध्यान रखा जा रहा है और वे एक-दूसरे की भलाई के लिए तत्पर हों।

विद्यालय के वे अवसर जहाँ व्यक्तिगत- सामाजिक योग्यता का पोषण किया जा सकता है।

  1. पाठ्यक्रम

      2.विद्यालय की विभिन्न गतिविधियाँ

      3.पूर्व व्यावसायिक शिक्षा

Nishtha module 2 गतिविधि first के answers

1.स्वयं और दूसरों के विचारों और भावनाओं के प्रति सत्य और

ईमानदार होने की क्षमता

नहीं

हाँ ✔️

भरोसेमंद होना काफी हद तक इस पर आधारित है

1.विद्यार्थियों को उनके निर्देशों के अनुसार बनाने की क्षमता है

नहीं ✔️

हाँ

2.विद्यार्थियों के व्यवहार के बारे में मत और विचार

नहीं✔️

हाँ

Nishtha module 2 प्रश्नोत्तरी

Please attention :प्रश्नोत्तर के क्रम अदल बदल सकते हैं,उत्तरों के क्रम भी बदल सकते है।सवाल हल करते समय ध्यान दें।

1.इनमें से कौन एक प्रभावी सहायक की विशेषता नहीं

1.व्यवहार परिवर्तन को सुकर बनाना

2.निर्णय लेने में मदद करना

3.भावनाओं की समझने को सुकर बनाना

4.व्यक्ति के लिए समस्याओं का समाधान करना

 

2.बच्चों के समूह के बीच द्वन्द के मामले में, आप एक शिक्षक के रूप में

कौन-सी युक्ति का उपयोग करेंगे:

1.अपने अधिकार का उपयोग करें और मुद्दे का फैसला करेंगें

2.स्कूल प्रधानाचार्य को मामले के बारे में सूचित करेंगे

3.मामले को अपने आप हल करने के लिए छोड़ देंगें

4.बच्चों के बीच संवाद करने में सहज बनाएंगे

3.चौकस श्रवण कौशल उपस्थित होने के लिए एक शिक्षक को छात्रों के निम्नलिखित पर ध्यान देने की आवश्यकता होती है:

मौखिक अभिव्यक्ति

सभी

व्यवहार और कार्य

गैर-मौखिक भाव

4.स्कूल / कक्षाओं में स्वस्थ वातावरण को बढ़ावा देने के लिए शिक्षकों के गुण और कौशल इस प्रकार हैं

सहानुभूति और देखभाल

संवेदनशीलता और नियंत्रण

संवेदनशीलता और आशंका

संवेदनशीलता और देखभाल

5.तदानुभूति है:

दूसरों के लिए खेद महसूस करना

अपने और दूसरों से तर्क करना

किसी और की तरह महसूस करना और सोचना

अपने स्वयं को समझना

6.शिक्षक छात्रों को वास्तविक चिंता और रुचि का सम्प्रेक्षण कर सकता हैं

उन्हें हमेशा उनका रास्ता देकर

उन्हें गतिविधियों में वरीयता देकर

उनके कार्यों पर सवाल नहीं उठाकर

आँख से संपर्क करके

7.छात्रों के लिए शिक्षकों को कक्षा के वातावरण में सकारात्मकता को बढ़ावा देने की आवश्यकता है ताकि छात्र अनुभव कर सके:

अलग और देखने योग्य

संरक्षित और अनिश्चित

एकांत और सतर्क

सुरक्षित और स्वीकृत

 

8.किसी अन्य व्यक्ति के दृष्टिकोण से स्थितियों को देखने में सक्षम होने की योग्यता / दक्षता को निम्न रूप में जाना जाता है:

सहानुभूतिपूर्ण व्यवहार

दृष्टिकोण जानना

दूंदू से निपटना

वास्तविकता परीक्षण

 

9.निम्नलिखित में से कौन-सा संवेदनशील शिक्षक की विशेषताएं हैं:

हर समय स्वयं और दूसरों की निगरानी करने में सक्षम होना

स्वयं की आवश्यकताओं के प्रति सचेत रहना

आलोचना और मूल्यांकन से आहत होना

छात्रों की आवश्यकताओं और समस्याओं के अनुरूप होना

10.एक शिक्षक संवेदनशीलता के गुण को चित्रित / दर्शा सकता है:

दूसरों की राय लेकर

दूसरों के साथ काम करने की क्षमता होना

विचारों को व्यक्त और दुसरो को समग्र करना

दूसरों की भावनाओं और विचारों से अवगत होकर

 

निष्ठा(Nishtha) प्रशिक्षण कैसे करे

Deled online classes

https://t.me/uppssms

Nishtha module 2 PDF

Download here

 

 

Nishtha(निष्ठा)माड्यूल प्रशिक्षण 2 लिंक,PDF,प्रश्नोत्तरी हल
Scroll to top