परिषदीय विद्यालय प्रमोशन न होने से नाराज हैं बेसिक शिक्षक, प्रमोशन नहीं होने पर प्रभारी पद छोड़ने की तैयारी

प्रमोशन न होने से नाराज हैं बेसिक शिक्षक, प्रमोशन नहीं होने पर प्रभारी पद छोड़ने की तैयारी

Spread the love

कुशीनगर जिले में एक हजार से अधिक अध्यापक प्रभारी हेडमास्टर के तौर पर कार्य कर रहे हैं। प्रमोशन के लिए ये शिक्षक कई बार आंदोलन कर चुके हैं। शुक्रवार की रात में 10 बजे तक शिक्षकों ने धरना दिया था। इन शिक्षकों ने प्रमोशन नहीं होने पर प्रभारी पद छोड़ने की बात कही है।

बेसिक शिक्षा विभाग के बडे. बदलाव

प्रमोशन करने की मांग

टेट मोर्चा से जुड़े शिक्षकों का कहना है कि जिले में प्राथमिक और संविलयन समेत कुल 2464 विद्यालय संचालित हैं। इन विद्यालयों में तैनात सहायक अध्यापकों की शिक्षा विभाग की तरफ से कई वर्षों से वरिष्ठता सूची जारी नहीं हुई है ।

पूरे प्रदेश मे सहायक अध्यापकों ने प्रमोशन के लिए आन्दोलन करने की बात की।

विद्यालयों में रिक्त प्रधानाध्यापकों का कार्यभार वहां तैनात वरिष्ठ अध्यापकों को सौंप दिया जाता है। अंतर जनपदीय तबादला के चलते कई स्कूलों में कार्यरत प्रभारी हेडमास्टर का पद भी रिक्त हो गया है। 

शिक्षक नेताओं का कहना है कि अस्थाई व्यवस्था अल्पकाल के लिए तो ठीक है, लेकिन बिना प्रमोशन पाए ही शिक्षकों से अतिरिक्त कार्य लिया जाना उचित नहीं है। उन्होंने आंदोलन की चेतावनी भी दी।


इस संबंध में बीएसए विमलेश कुमार ने बताया कि शिक्षक संगठनों की मांग पर बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव से मार्ग दर्शन मांगा गया है । उनके तरफ से मिले निर्देश के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

BSA नही रोक सकते अध्यापकों का वेतन

सिद्धार्थ नगर से बीटीसी संयुक्त मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अभिषेक त्रिपाठी ने कहा सहायक अध्यापकों से बेसिक शिक्षा नियमावली के तहत ही कार्य कराये जाने चाहिए

सहायक अध्यापकों को अतिरिक्त प्रभार देने से बच्चों की पढाई पर असर पडेगा।उन्होंने सहायक अध्यापकों को हेडमास्टर की जिम्मेदारी देना बेसिक शिक्षा नियमावली , Rte act,नयी शिक्षा नीति का खुला उल्लंघन बताया।

प्रदेश स्तर पर आन्दोलन की चेतावनी

मानव संपदा पोर्टल से संबंधित पूरी जानकारी
Click here


Spread the love

thanks

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.