humanity

कोरोना लॉकडाउन: गरीब, किसान, महिला… सरकार के राहत पैकेज में सबके लिए हुई ये घोषणा

indian government relief package

मानवाधिकार दिवस क्यों? थानेदार दिवस क्यों नहीं?

कभी थानेदार या दरोगा दिवस नहीं मनाते हैं। पहलवान दिवस भी नहीं मनाते और न ही दिवस मनाते हैं।   परसाईं जी पहले ही कह चुके हैं कि ‘दिवस’ हमेशा कमज़ोरों के मनाए जाते हैं। जैसे- मज़दूर दिवस, बाल दिवस, महिला दिवस, हिंदी दिवस या पर्यावरण दिवस। हम ऐसे दिन के माध्यम से स्वयं को …

मानवाधिकार दिवस क्यों? थानेदार दिवस क्यों नहीं? Read More »