दीक्षा Teacher training Course : Mission PRERNA

Teacher training Course : Mission PRERNA

Spread the love

Mission Prerna

शिक्षक प्रशिक्षण (Teacher training) कोर्सेज का कैलेंडर

मिशन प्रेरणा के अंतर्गत शैक्षिक सुधारों से सम्बंधित शिक्षक प्रशिक्षण कोर्सेज का कैलेंडर आपके साथ साझा किया जा रहा है।

यह सभी कोर्सेज दीक्षा प्लेटफार्म पर उपलब्ध हैं। इस कैलेंडर से सम्बंधित कुछ प्रमुख जानकारी नीचे दी गयी है:

1. इसमें कुल 25 कोर्सेज हैं “जो सभी शिक्षकों को 31 मार्च तक अनिवार्य रूप से कम्प्लीट करने” हैं।
2. सभी कोर्सेज “बुनियादी  शिक्षण तकनीकों” पर आधारित हैं।
3. प्रत्येक कोर्स के सामने एक QR कोड दिया गया है जिसको स्कैन करके आप वह कोर्स दीक्षा app पर देख सकते हैं।

साथ ही QR कोड के नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके भी आप वह कोर्स दीक्षा app पर देख सकते हैं।

इन सभी कोर्सेज को कम्प्लीट करने के बाद आप बुनियादी शिक्षा से सम्बंधित कई शिक्षण तकनीक जान पाएंगे तथा उनको अपने दैनिक आचरण में भी ढाल पाएंगे।

कोर्स का नाम : बच्चों की भाषा: स्कूल v/s घर (उत्तर प्रदेश)

 कोर्स समयावधि : 1 जनवरी 2021 से 8 जनवरी 2021

कोर्स लिंंक ⇒

https://diksha.gov.in/auth/realms/sunbird/protocol/openid-connect/auth?client_id=portal&state=a5b639fa-cdd6-410a-8509-d6694b8cb21f&redirect_uri=https%3A%2F%2Fdiksha.gov.in%2Flearn%2Fcourse%2Fdo_31304326532734976016046%3Fauth_callback%3D1&scope=openid&response_type=code&version=4

About Course

ये कोर्स प्राथमिक शालाओं की शिक्षकों के (teacher training) लिए, खासकर की शुरूआती कक्षाओं के शिक्षकों के लिए उपयुक्त है। हालांकि यह भाषा पढ़ाने के सन्दर्भ में तैयार किया गया है,

  • लेकिन ये कोर्स किसी भी विषय पढ़ाने वाले शिक्षक के लिए लाभदायक हो सकता है। खासकर वह शिक्षक जिनकी कक्षा में बच्चों की घर की भाषा और स्कूल की भाषा में काफी अंतर होता है|
  • घर की भाषा और स्कूल की भाषा के अंतर को समझने और बच्चों पर इस अंतर का प्रभाव समझने में ये कोर्स मदद करेगा|
  • साथ ही कक्षा में किस तरह से हम दोनों भाषाओं के बीच दूरी कम कर सकते हैं उसके लिए कुछ सुझाव भी देखने को मिलेंगे|
  • कोर्स की लेखिका इस कोर्स की लेखिका श्रीमती द्रिप्ता पिपलई है, जो की एक भाषाविद हैं| वह कक्षा में बच्चों के सामने आने वाली भाषाई समस्याओं पर काम करती हैं, खासकर उन बच्चों के लिए जो अल्पसंख्यक भाषा बोलते हैं| फिलहाल वह the Indian Institute of Technology Kharagpur में काम कर रही हैं।

Diksha qr code


Spread the love

thanks

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.