Teacher transfer:परिषदीय शिक्षकों के साल में दो बार होंगे पारस्परिक तबादले, जिले के अंदर तबादले का प्रस्ताव प्रेषित

Share for friends

जिले में शिक्षकों के साल में दो बार होंगे तबादले

“Transfer of teachers inside the district”
बेसिक शिक्षा परिषद के सहायक अध्यापकों के जिले के अंदर एक ब्लॉक से दूसरे ब्लॉक और एक नगर निकाय क्षेत्र से दूसरे निकाय क्षेत्र में तबादले जल्द किए जाएंगे।

विभाग ने इसकी नीति बनानी शुरू कर दी है। इसके लिए काफी समय से मांग हो रही है। शिक्षक संगठन के साथ जनप्रतिनिधि भी इसके लिए दबाव बना रहे हैं।

शिक्षकों का अंतरजनपदीय तबादला तीन नहीं,पांच साल में होगा।

बेसिक शिक्षा राज्यमंत्री “सतीश द्विवेदी” ने बताया कि सभी जिलों से जिले के अंदर तबादले के लिए रिक्त पदों की जानकारी मांगी गई है। इस बार ग्रामीण और शहरी संवर्ग का बंधन भी समाप्त किया जाएगा।

अंतरजनपदीय तबादले की प्रक्रिया पूरी होने के बाद जिले के अंदर परस्पर स्थानान्तरण की तैयारी है। जिले के अंदर पारस्परिक ट्रांसफर अप्रैल 2021 से नया सत्र शुरू होने से पहले करने की योजना है।

नवनियुक्त 31277 शिक्षकों को स्कूलों में तैनाती 30 सितम्बर 2019 की छात्र संख्या के मुताबिक,इस तरह होगी तैनाती

बेसिक शिक्षा परिषद ने जिले के अंदर पारस्परिक तबादले का प्रस्ताव “महानिदेशक स्कूली शिक्षा” विजय किरन आनंद को भेज दिया है।

⇒खास बात यह कि एक साल में दो बार पारस्परिक ट्रांसफर का प्रस्ताव दिया गया है।

⇒हालांकि ओपन ट्रांसफर को लेकर कोई चर्चा नहीं है।

⇒चुनावी साल होने के नाते सरकार अधिक से अधिक शिक्षकों को मनचाही तैनाती देना चाह रही है ।

⇒परिषदीय शिक्षकों का कैडर जिले स्तर का होने के कारण शिक्षण लंबे समय से तबादले की मांग कर रहे हैं ।

परिषदीय विद्यालयों मे नवीन अन्तर्जनपदीय स्थानान्तरण समयसारिणी जारी,30 दिसम्बर को जारी होगी नयी सूची

उनका तर्क है कि रिक्त पदों पर दूसरे जिले से तबादला होकर आए शिक्षक या नव नियुक्त शिक्षकों की तैनाती हो जा रही है लेकिन सालों से पिछड़े ब्लॉकों में पढ़ा रहे शिक्षकों की सुनवाई नहीं हो रही है ।

Follow us @TELEGRAM

Teacher transfer:परिषदीय शिक्षकों के साल में दो बार होंगे पारस्परिक तबादले, जिले के अंदर तबादले का प्रस्ताव प्रेषित

One thought on “Teacher transfer:परिषदीय शिक्षकों के साल में दो बार होंगे पारस्परिक तबादले, जिले के अंदर तबादले का प्रस्ताव प्रेषित

thanks

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to top